युहन्ना पवित्र शनान देने आला
3
1 उन्हें धयाडे ें च यूहन्ना बपतिस्मा देने आह्ला यहूदिया दे जंगल च ए परचार करदा हा : 2 'मने गी फेरो, कीहके सुर्गे दा राज नेड़े आई गेदा ऐ।'' 3 ऐ उए ऐ जिस दी चर्चा यशायाह पविखवक्ता दे द्वारे किती गेई: '' जंगल च इक पकारने आह्ले दी बाज ओया दा ऐ, के प्रभु दा रस्ता तयार करो, उस्स दी सिड़क सीधी बनाओ ।
4 ऐ यूहन्ना ने ऊंट दे बालें दा कपड़ा लाए दा हा, अते अपने लक्क च चमड़े दा कटिबन्ध बन्ने दा हा।उस्स दी रुट्टी त्रिडीयां अते वनमखीर हा । 5 उस बेलै यरूशलेम अते सारे यहूदिया, अते यरदन दे असे - पासे सब जगह दे लोक उदे कोल निकली आए । 6 उन्हैं अपने अपने पापें गी मनीयै यरदन नदी च उस्स थमा बपतिस्मा लीता ।
7 जिस लै उस्स मअते सारे फरिसियें अते सदूकियें गी बपतिस्मा लेने अस अते अपने कोल आंदे दिखया, तां उन्हें गी अखया, '' ऐ सप दे बच्यो, तुसें गी कुन्ने जताई दीता के आने आह्ले गुस्से थमा नस्सो ? 8 इसे अस तै मन फिराव जुगा फल लाओ; 9 अते अपने अपने मने च ऐ ना सोचो के साड़ा प्यो (बब्ब) अब्राहम ऐ; कीहके आऊ थआड़े कन्ने आखना ऐ के परमात्मा इन्हें पत्त्थरा थमा अब्राहम अस अते संतान पैदा करी सकदा ऐ । 10 हूंन कुहाड़ा रुक्खें दी जाडें उप्पर रखी दिअते दा ऐ, इसे अस तै जेह्ड़ा - जेह्ड़ा रुक्ख छैल फल नेई लांदा, ओह बडीयै अग्ग बिच सुटया जांदा ऐ ।
11 ' आऊ अते पानी कन्ने तुसें मन फिराव दा बपतिस्मा दीना ऐ, लेकन जेहडा मेरे थमा बाद बिच आने आह्ला ऐ, ओह मेरे थमा शक्तिशाली ऐ; आऊ उस्स दी नूक्क चुकने दे काबिल नेईयैं । ओह तुसें पवित्र आत्मा अते अग्गी कन्ने बपतिस्मा देग । 12 उस्स दा सूप उदे हत्त्थ बिच ऐ, अते ओह अपना खलिहान खरी रीती कन्ने साफ़ करग, अते अपनी कनक गी खत्अते च किट्ठा करग, लेकन पोह् गी अग्ग च जाली देग जेकी कदें हिस्लग नेई।''
13 उस बेलै यीशु गलील थमा यरदन दे कंडे यूहन्ना दे कोल ओदे कुला बपतिस्मा लेने अस तै आया । 14 लेकन यूहन्ना ऐ अखियै उसे रोकना लगया, '' मीकी अते अतेरे हत्थे बिचा बपतिस्मा लेने दी जरूरत ऐ, अते तू मेरे कोल आए दा ऐ” ? 15 यीशु ने उसे जबाब दिता, '' हूंन अते इय्याँ गै होना दे, कीहके साडे बासअते ईये रीती कन्ने सारी तार्मिकता गी पूरा करना ठिक ऐ।” उस्स बेले उस्स ने उस्स दी गल्ल मनी लेई । 16 अते यीशु बपतिस्मा लेइयै फौरन पानीया बिचा उप्पर आया, अते दिखो, उस्स अस तै अंबर खुली गया, अते उस्स ने परमात्मा दी आत्मा गी कबूतर आला लेखा उतरदै अते अपने उप्पर ओंदे दिखया । 17 अते दिखो, ऐ असमानवाणी ओई : '' ऐ मेरा प्यारा जाकत ऐ, जिस थमा आऊ मता खुश ऐं ।